Google Play Store ने 17 खतरनाक ऐप्स को हटा दिया है, अगर आप भी इसका इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसे तुरंत अनइंस्टॉल कर दें, देखें पूरी लिस्ट


Google के जिन ऐप्स को Play Store से हटा दिया गया है, उनमें जोकर ग्रुप के मैलवेयर हैं। इस समूह में मैलवेयर सबसे उन्नत और खतरनाक माना जाता है। ऐसे में अगर ये 17 खतरनाक ऐप आपके मोबाइल में मौजूद हैं, तो इन्हें तुरंत अनइंस्टॉल कर दें।

Google Play Store से 17 खतरनाक ऐप्स हटा दिए गए हैं। इन ऐप्स पर उपयोगकर्ताओं की डेटा चोरी का आरोप है। ऐसी स्थिति में, Google से उपयोगकर्ताओं की सुरक्षा के कारण, इन ऐप्स को इसके आधिकारिक प्ले स्टोर से हटा दिया गया है। हालांकि, जिन मोबाइल उपयोगकर्ताओं ने पहले से ही इन ऐप्स को इंस्टॉल किया है, उन्हें इन खतरनाक ऐप को मोबाइल से खुद ही निकालना होगा। Google ने जिन ऐप्स को Play Store से हटा दिया है उनमें जोकर ग्रुप के मैलवेयर हैं।

इस समूह में मैलवेयर सबसे उन्नत और खतरनाक माना जाता है। ऐसे में अगर ये 17 खतरनाक ऐप आपके मोबाइल में मौजूद हैं, तो इन्हें तुरंत अनइंस्टॉल कर दें। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इन एप्स को लगभग 1.2 मिलियन बार डाउनलोड किया गया है। क्लाउड सिक्योरिटी कंपनी Zscaler के एक सिक्योरिटी रिसर्चर वायरल गांधी ने कहा कि ये मैलवेयर यूजर्स के मोबाइल से एसएमएस, कॉन्टैक्ट्स और डिवाइस की जानकारी चुराने के लिए बनाए गए हैं। यह कई प्रीमियम वायरलेस एप्लिकेशन प्रोटोकॉल (WAP) उपयोगकर्ताओं को खतरनाक होने की अनुमति के बिना साइन-अप करने की भी अनुमति देता है, जो उपयोगकर्ताओं की सुरक्षा के मामले में बहुत खतरनाक साबित हो सकता है।

बता दें कि यह तीसरा मामला है, जब जोकर मालवेयर ने गूगल की सुरक्षा टीम को धोखा दिया है और प्ले स्टोर में प्रवेश किया है। पिछले महीने, Google से 6 खतरनाक ऐप हटा दिए गए थे, जो लाखों एंड्रॉइड उपयोगकर्ताओं को नुकसान पहुंचा रहे थे। जोकर मालवेयर के बारे में Google द्वारा पहले ही जानकारी साझा की जा चुकी है। Google की सुरक्षा टीम लंबे समय से इन खतरनाक ऐप्स से निपट रही है। Google द्वारा लगभग 1700 जोकर ग्रुप मैलवेयर प्ले स्टोर से हटा दिए गए हैं।

Google के अनुसार, इन खतरनाक ऐप्स को हटाना बहुत चुनौतीपूर्ण है। Google के अनुसार, ऐसे ऐप इंस्टॉल करते समय उपयोगकर्ताओं को सावधान रहना चाहिए। विशेष रूप से, जिन अनुप्रयोगों के लिए स्थापना में बहुत अधिक जानकारी मांगी जा रही है, उन ऐप्स से बचा जाना चाहिए। साथ ही, आपको क्रेडिट कार्ड, डेबिट या किसी अन्य प्रकार के बैंकिंग लेनदेन ऐप का उपयोग करने से बचना चाहिए।

Related Posts