एलोन मस्क ने अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए बताया कि वह व्हाट्सएप नहीं बल्कि सिग्नल ऐप का इस्तेमाल करते हैं।


एलोन मस्क ने इस सिग्नल ऐप का इस्तेमाल करने की अपील भी की।

इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप व्हाट्सएप ने अपने उपयोगकर्ताओं के बीच एक महत्वपूर्ण और विश्वसनीय स्थान बनाया है। लेकिन व्हाट्सएप पिछले कुछ समय से लगातार चर्चा में है और इसका मुख्य कारण गोपनीयता नीति में बदलाव है। जिसमें कहा गया है कि यूजर्स को अपने व्हाट्सएप अकाउंट का पर्सनल डेटा फेसबुक के साथ शेयर करना होगा। इसके बाद दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति एलोन मस्क ने कहा कि वह व्हाट्सएप नहीं बल्कि सिग्नल ऐप का इस्तेमाल करते हैं।

एलोन मस्क के ट्वीट के बाद, लोग लगातार सिग्नल ऐप डाउनलोड कर रहे हैं। आइए जानते हैं कि सिग्नल ऐप में ऐसा क्या खास है जो इसे व्हाट्सएप से बेहतर बनाता है। एलोन मस्क कहते हैं कि इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप सिग्नल दुनिया का सबसे सुरक्षित ऐप है। इसके अलावा, सिग्नल उपयोगकर्ताओं के व्यक्तिगत डेटा के लिए भी नहीं पूछता है। जिसे व्हाट्सएप अब प्राइवेसी पॉलिसी के नाम पर कर रहा है। ऐसे में लोग वॉट्सऐप पर भरोसा कम कर रहे हैं और सिग्नल पर बढ़ रहे हैं।

सिग्नल ऐप की खास बात यह है कि यह पूरी तरह से सुरक्षित है और इसमें यूजर्स का अपना डेटा शेयर करने का कोई खतरा नहीं है। अर्थात्, उपयोगकर्ताओं का निजी डेटा निजी रहता है, इसे कहीं भी साझा नहीं किया जा सकता है। यह उपयोगकर्ताओं को क्लाउड में असुरक्षित बैकअप नहीं भेजता है और यह एन्क्रिप्टेड डेटाबेस को आपके फोन में सुरक्षित रखता है। सिग्नल ऐप में मुख्य विशेषता यह है कि इसमें डेटा लिंक्ड टू यू फीचर है। इस सुविधा को सक्षम करने के बाद, कोई भी चैटिंग के दौरान उस चैट का स्क्रीनशॉट नहीं ले सकता है।

इससे यह स्पष्ट होता है कि यहां आपकी चैट पूरी तरह से सुरक्षित है। यदि आप सिग्नल ऐप की किसी अन्य विशेषता को देखते हैं, तो यह स्वचालित रूप से आपके पुराने संदेशों को गायब कर देता है। इसके लिए, उपयोगकर्ता 10 सेकंड से एक सप्ताह तक का समय निर्धारित कर सकते हैं। आपके संदेश निर्धारित समय के दौरान अपने आप गायब हो जाएंगे। बता दें कि व्हाट्सएप ने हाल ही में एक फीचर भी शुरू किया था, जिसे डिस्पेयरिंग कहा जाता है।

Related Posts